Google search engine
HomeIndiaBiharBihar News: बिहार में शराब बंदी के कारण, पुलिस थाना बना दारू...

Bihar News: बिहार में शराब बंदी के कारण, पुलिस थाना बना दारू का ठेका 15 लाख की मिली दारू।

Bihar News:बिहार में 2016 से ही शराबबंदी कानून लागू है और बिहार पुलिस एक बड़ी चुनौती के रूप में बिहार में शराबबंदी कानून लागू करने में लगी हुई है। लेकिन इसके बावजूद भी बिहार में शराब का अवैध कारोबार होता रहता है। लेकिन हद तो तब हो गई जब बिहार के पुलिस थाने से ही शराब की तस्करी होने लगी। जिस पुलिस को शराब की तस्करी पर रोक लगाने के लिए जिम्मेदारी दी गई है, वही बिहार पुलिस अब शराब तस्करों का सरदार बन चुकी है।

Bihar News: Due to liquor ban in Bihar, liquor shop turned into police station, liquor worth Rs 15 lakh found.
Bihar News: Due to liquor ban in Bihar, liquor shop turned into police station, liquor worth Rs 15 lakh found.

Bihar News: नीतीश कुमार की पुलिस शराबबंदी को राज्य में कितना सफल बना रही है उसका अंदाजा आप इस बात से ही लगा सकते हैं कि पुलिस वालों ने अब थाने को ही शराब का ठेका बना दिया है। दरअसल, बिहार में पुलिस थाने से शराब की तस्करी का खुलासा हुआ है।थाने में मिली 15 लाख से अधिक की शराब पकड़ी है। ये शराब चुपके से पुलिस थाने से ही बेची जा रही थी। इस मामले में अब थाना अध्यक्ष सहित चार पुलिसकर्मी निलंबित करके उनके खिलाफ प्राथमिक दर्ज कर ली गई है जिले के SP, थाने के पुलिसकर्मी और पुलिस अधिकारी पर कार्रवाई की गयी है|

हैरान करने वाला मामला बिहार के हाजीपुर से सामने आया है। शराबबंदी वाले बिहार में पुलिस थाने से पुलिस वाले ही शराब की तस्करी करते रंगे हाथ पकड़े गए हैं। इस तस्करी में थाना अध्यक्ष से लेकर, संतरी, चौकीदार, सभी मिलकर 900 लीटर विदेशी शराब को शराब तस्कर के हाथों बेचने की फिराक में थे।

पटना उत्पाद विभाग की टीम ने सभी को रंगे हाथ थाना पहुंचकर धर दबोचा। इस मामले में थाना अध्यक्ष सहित चार पुलिसकर्मी निलंबित कर दिए गए हैं और प्राथमिकी दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जा रही है। पटना उत्पाद विभाग की टीम ने सभी को रंगे हाथ थाना पहुंचकर धर दबोचा। इस मामले में थाना अध्यक्ष सहित चार पुलिसकर्मी निलंबित कर दिए गए हैं और F.I.R. दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

हाजीपुर के सराय थाना क्षेत्र में बीते रोज पकड़ी गई 3700 लीटर अवैध शराब को विनशट किया गया था और विनष्टि की प्रक्रिया भी पूरी कर ली गई थी। लेकिन भ्रष्ट थाना अध्यक्ष और मलखाना प्रभारी रात्रि पहरेदार चौकीदार और एक संतरी ने मिलकर 900 लीटर विदेशी शराब को छिपा कर रख लिया और मात्र 2800 लीटर ही शराब को नष्ट किया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Latest News