Google search engine
HomeTECHNOLOGYChandrayaan3: चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर साफ्ट लैंडिंग कराने वाला विश्व का...

Chandrayaan3: चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर साफ्ट लैंडिंग कराने वाला विश्व का पहला देश बना भारत,रच दिया इतिहास

Chandrayaan3:भारत में रचा इतिहास चंद्रयान 3 मिशन हुआ सफल कैलेंडर विक्रम चंद्रमा की धरती पर कामयाबी के साथ उतर गया है भारत का 40 दोनों का इंतजार खत्म हुआ पृथ्वी से चंद्रमा तक की दूरी 3.84 लाख किलोमीटर का सफर तय करने के बाद भारत में चंद्रमा पर तिरंगा झंडा फहरा दिया है विक्रम ब्लेंडर किस सॉफ्ट लैंडिंग करने वाला रूस अमेरिका चीन के बाद दुनिया का चौथा देश भारत बन गया है वहीं चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर साफ्ट लैंडिंग करने वाला भारत पहला देश है

Chandryaan3: India became the first country in the world to make a soft landing on the South Pole of the Moon, created history
Chandrayaan3

Chandrayaan3:अब नजरें प्रज्ञान रोवर पर है, जो स्थितियां सामान्य होने के बाद चांद की सतह पर चलेगा। चंद्रयान-3 का लैंडर मॉड्यूल लैंडर के कम्प्लीट कॉन्फिगरेशन को बताता है। इसमें रोवर का वजन 26 किलोग्राम है। रोवर चंद्रयान-2 के विक्रम रोवर के जैसे ही है। प्रज्ञान रोवर को बाहर आने में एक दिन का समय भी लग सकता है। वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. संजीव सहजपाल कहते हैं कि योजना के मुताबिक, सॉफ्ट लैंडिंग के साथ ही लैंडर और रोवर चांद की सतह पर अपना काम करना शुरू कर देंगे।
लैंडर के साथ ही चांद की सतह पर उतरने वाले रोवर अपने पहियों वाले उपकरण के साथ वहां की सतह की पूरी जानकारी इसरो के वैज्ञानिकों को देना शुरू कर देगा। इन पहियों पर अशोक स्तंभर और इसरो के चिह्न उकेरे गए हैं, जो प्रज्ञान के आगे बढ़ने के साथ चांद की सतह पर अपने निशान छोड़ेंगे। इसी के साथ इसरो और अशोक स्तंभ के चिह्न चांद पर अंकित हो जाएंगे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Latest News